विभाग ने करवाया संगड़ाह को शिमला से जोड़ने वाले मार्ग का…..

HNN / संगड़ाह

लोक निर्माण विभाग मंडल संगड़ाह के अंतर्गत आने वाले खस्ताहाल संगड़ाह-पालर-राजगढ़ रोड को चकाचक करने का काम अब प्रधानमंत्री ग्राम सड़क निर्माण योजना के तहत किया जाएगा। लोक निर्माण विभाग द्वारा जागलन हाईवे इंजीनियरिंग एजेंसी से इसका एटसीसी सर्वे शुरू करवाया जा चुका है। सड़क की डीपीआर भी इसी निजी कंपनी द्वारा तैयार की जाएगी।

विभाग की लापरवाही, ठेकेदारों द्वारा ईमानदारी से काम न किए जाने व जगह-जगह हुए अतिक्रमण तथा अवैध डंपिग के चलते उपमंडल संगड़ाह को प्रदेश की राजधानी शिमला से जोड़ने वाली यह सड़क क्षेत्र के सबसे बदहाल मार्गों मे शामिल है। कईं जगह तो इस मार्ग पर पक्के होने के निशान तक नही है और विभाग द्वारा मिट्टी डालकर समतल की गई यह सड़क बारिश होते ही फिर ऊबड़खाबड़ हो जाती है।

नए अस्पताल भवन तक के इस मार्ग के अढ़ाई किलोमीटर हिस्से पर दो दर्जन के करीब लोगों द्वारा न केवल निजी भवन निर्माण के लिए सड़क की नालियों पर अवैध कब्जे किए गए हैं, बल्कि भवन के लिए की गई खुदाई का मलवे की भी लोक निर्माण व वन विभाग की सरकारी भूमी पर अवैध डंपिग की गई है। लोक निर्माण विभाग मंडल संगड़ाह की सड़कों के लिए वर्तमान में पीएमजीएसवाई के तहत करीब 25 करोड़ का बजट उपलब्ध है।

विभाग के अधिशासी अभियंता संगड़ाह रतन शर्मा ने बताया कि, जागलन हाईवे इंजीनियरिंग कंपनी द्वारा ही इस मार्ग की डीपीआर तैयार की जाएगी। उन्होने कहा कि, क्षेत्र की सड़कों पर अतिक्रमण करने वालों को विभाग द्वारा नोटिस जारी किए जा चुके हैं।

लेटेस्ट न्यूज़ एवम अपडेट्स अपने व्हाटसऐप पर पाने के लिए हमारी व्हाटसऐप बुलेटिन सर्विस को सब्सक्राइब करें। सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करें।

वीडियो