वेट लैंड श्री रेणुका जी में पहुंचे प्रवासी मेहमान

HNN/ नाहन

जिला सिरमौर के प्रसिद्ध पर्यटन और धार्मिक स्थल श्री रेणुका जी में प्रवासी पक्षी अपना डेरा जमाए हुए हैं। लगातार ठंड बढ़ते जा रही है ऐसे में पक्षियों की संख्या में वृद्धि लाजमी है। ऐसा इसलिए क्योंकि ठंड बढ़ने के साथ-साथ अक्सर यहां प्रवासी पक्षियों की संख्या में पहले भी लगातार वृद्धि देखने को मिली है। अभी तक सैकड़ों प्रवासी पक्षी झील में पहुंच चुके हैं।

रेणुका झील में और इसके इर्द-गिर्द डेरा डाले प्रवासी पक्षी यहां पहुंचने वाले श्रद्धालुओं व पर्यटकों के लिए आकर्षण का केंद्र बने हुए हैं। पर्यटकों का कहना है कि निश्चित तौर पर उनके लिए ये प्रवासी पक्षी एक बड़ा आकर्षण रहते हैं। श्री रेणुका जी वेट लैंड क्षेत्र में तैनात फारेस्ट गार्ड वीरेंद्र ने जानकारी देते हुए बताया कि अभी तक 5 अलग-अलग प्रजाति के साइबेरियन पक्षी यहां पहुँच चुके है।

बताया कि सबसे ज़्यादा 280 मोरन पक्षी यहां पहुंचे है। इसके अलावा एशियन क्यूट 13, इंटरमीडिएट फ्रिगेट 2, कॉमरेड 6 और मलाड प्रजाति के 7 पक्षी पहुंचे है। वीरेंद्र ने बताया कि वाइल्ड लाइफ की टीम इन प्रवासी मेहमानों के स्वागत में जुटा हुआ है। इनको किसी प्रकार का नुक्सान नहीं पहुंचे इसपर बराबर नजर बनाकर रखी जा रही है।

यही नहीं इनके आहार और व्यवहार पर भी बराबर जानकारी जुटाई जा रही है। वहीँ, इन प्रवासी मेहमानों के आने पर पक्षी प्रेमियों के चेहरे भी खिल उठे है। तो वहीँ, वेट लैंड क्षेत्र श्री रेणुका जी पक्षियों से गुलज़ार हो उठा है। वाइल्ड लाइफ के द्वारा लोगों से अपील की गई है कि किसी भी पक्षी को खाने को न दे। इनका कहना है कि यह पक्षी अपना आहार प्राकृतिक रूप से सुनिश्चित करते है।

मनुष्य द्वारा दिए गए आहार से इनका प्राकृतिक संतुलन बिगड़ जाता है। वीरेंद्र का कहना यह भी है कि अभी और मेहमानों का आना बाकी है। फिलहाल पांच अलग-अलग प्रजातियां प्रवासी पक्षियों की डेरा डाल चुकी है।

लेटेस्ट न्यूज़ एवम अपडेट्स अपने व्हाटसऐप पर पाने के लिए हमारी व्हाटसऐप बुलेटिन सर्विस को सब्सक्राइब करें। सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करें।

वीडियो