शहरी विकास मंत्री सरवीन चैधरी ने लदवाड़ा में पुरस्कृत किए विद्यार्थी

HNN News/ धर्मशाला

राजकीय उच्च पाठशाला लदवाड़ा के वार्षिक पारितोषिक वितरण समारोह में शहरी विकास, आवास एवं नगर नियोजन मंत्री श्रीमती सरवीन चैधरी ने बतौर मुख्यातिथि शिरकत की । उन्होंने जानकारी दी कि 2 करोड़ 27 लाख से धमूल कूहल व 1 करोड़ 89 लाख से बनाई जा रही भोगल कूहल का कार्य अगले चार महीने में पूरा कर लिया जाएगा ।

शहरी विकास मंत्री ने कहा कि काला बस्ती में नया ट्रांसफार्मर लगा दिया है और शीघ्र ही कुठेड़ में नया ट्रांसफार्मर लगा दिया जाएगा । उन्होंने जानकारी दी कि जोल पुल से लेहड़ तक 87 लाख से बनाई जाने वाली सड़क का केस स्वीकृति हेतु भेजा गया है । शहरी विकास मंत्री ने पंचायत से ओबीसी भवन निर्माण के लिए जमीन उपलब्ध करवाने को कहा ताकि भवन बनवाया जा सके

उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार शिक्षण संस्थानों में मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध करवाने को प्रयासरत है और बच्चों को गुणात्मक शिक्षा के साथ साथ संस्कारयुक्त शिक्षा पर बल दिया जा रहा है ।

उन्होंने कहा कि बच्चे पढ़ाई के साथ साथ अन्य गतिविधियों में भी बढ़ चढ़ कर भाग लें। बच्चों के सर्वांगीण विकास में उनके अभिभावकों व अध्यापकों का अहम रोल रहता है । अध्यापकों द्वारा विद्यार्थी जीवन में बताये गए रास्तों व शिक्षाओं को वे हमेशा याद रखते हुए आगे बढ़ते हैं । उन्होंने कहा कि सरकारी स्कूलों में बच्चों की घटती हुई संख्या हम सब के लिए चिंता का विषय है ।

उन्होंने स्कूल स्टेज के लिए एक लाख रुपये व सांस्कृतिक कार्यक्रम के लिए 11 हजार रुपये देने की घोषणा की । उन्होंने कहा कि शीघ्र ही स्कूल में अतिरिक्त शौचालय का निर्माण करवा दिया जाएगा ।

इसके उपरान्त शहरी विकास मंत्री ने विभिन्न गतिविधियों में उत्कृष्ट रहे बच्चों को पुरस्कृत किया ।
स्कूल की मुख्याध्यापिका प्रवीण लता ने वार्षिक प्रतिवेदन पढ़ा और स्कूल की विभिन्न गतिविधियों बारे जानकारी दी । लदवाड़ा के उपप्रधान योगराज चड्डा ने शहरी विकास मंत्री का पंचायत में आगमन पर उनका स्वागत किया व आभार जताते हुए कहा कि इस पंचायत में विभिन्न विकास कार्य उनके द्वारा करवाए गए हैं और आगे भी करवाते रहेंगें ।

स्कूल के छात्र-छात्राओं ने सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किया ।

इस अवसर पर शिक्षक महासंघ के प्रदेशाध्यक्ष पवन कुमार, अधिशासी अभियंता राजीव महाजन, एसडीओ विवेक कालिया, जिला परिषद् सदस्य सीमा देवी, प्रधान सुदर्शना देवी, नेणों देवी, राकेश मनु, प्रदीप, जोगिंदर, करतार, बिन्दु, विभिन्न विभागों के अधिकारी, स्कूलों के प्रधानाचार्य, मुख्यध्यापक, स्कूल स्टाफ, बच्चों के अभिवावक व बड़ी संख्यां में स्थानीय लोग उपस्थित रहे ।