शहीद बेटे के अंतिम संस्कार के बाद मां ने भी तोड़ा दम, नहीं सह पाईं गम

HNN News/ हमीरपुर

शहीद बेटे के अंतिम संस्कार के एक दिन बाद मां ने भी दम तोड़ दिया। जवान बेटे की मौत का गम मां विमला देवी (55 साल) सहन नहीं कर पाई। शून्य से माइनस 50 डिग्री तापमान वाले सियाचिन ग्लेशियर में देश की रक्षा के लिए तैनात हमीरपुर का सपूत ठंड में ब्रेन स्ट्रोक होने के कारण शहीद हो गया था।

नौ दिन तक अस्पताल में रहने के बाद रविवार को कमांड अस्पताल चंडी मंदिर में उसने अंतिम सांस ली थी। दुलेड़ा गांव के सैनिक वरुण को मंगलवार को राजकीय सम्मान के साथ अंतिम विदाई दी गई थी। वरुण कुमार शर्मा (34) पुत्र अमर नाथ करीब 15 वर्ष पहले दो डोगरा रेजिमेंट में भर्ती हुए थे।

बीती 20 दिसंबर को जब वह सियाचिन ग्लेशियर पर थे तो उन्हें अचानक सर दर्द हुआ और खून की उल्टी भी हो गई। 20 दिसंबर शाम को उनका ऑपरेशन हुआ। इसके बाद उन्हें कमांड अस्पताल चंडी मंदिर शिफ्ट कर दिया गया, लेकिन यहां बीते रविवार को दोपहर बाद 3.41 बजे वरुण ने दम तोड़ दिया था।

Test