संगठन व सरकार की नजरों से ओझल रेणुका जी विधानसभा क्षेत्र

HNN/ नाहन

श्री रेणुका जी विधानसभा सीट सरकार व संगठन की अनदेखी के चलते आज भी कांग्रेस के लिए सुरक्षित बनी हुई है। हैरानी इस बात की है कि भाजपा ने श्री रेणुका जी सीट को अभी तक चुनौती के रूप में स्वीकार नहीं किया है। बावजूद इसके इस विधानसभा क्षेत्र से उम्मीदवार रहे बलबीर सिंह चौहान अपने ही दमखम पर कांग्रेसी विधायक को चुनौती दे रहे हैं। जबकि प्रदेश कार्यकारिणी में शामिल केवल तीन चेहरे भाजपा के सह मीडिया प्रभारी प्रताप सिंह रावत के आगे निष्क्रिय साबित रहे हैं।

मीडिया से लाइजनिंग हो या फिर विधायक को जनता की जवाबदेही के कटघरे में खड़ा करने के लिए केवल प्रताप सिंह रावत ही मैदान में अक्सर नजर आते हैं। हैरानी इस बात की है कि लंबे समय से पार्टी के इस निष्ठावान सिपाही के लिए ना तो प्रदेश कार्यकारिणी में आज तक जगह दी गई है और ना ही जिला कार्यकारिणी में कोई मजबूत आधार दिया गया है। यही नहीं किसी बोर्ड अथवा निगम की जिम्मेवारी से भी यहां के प्रमुख कार्यकर्ताओं को नजरअंदाज ही रखा गया है।

ऐसे में श्री रेणुका जी विधानसभा क्षेत्र सीट के लिए विनय कुमार आज भी मजबूत ही बने हुए हैं। बड़ी बात तो यह है कि इस विधानसभा क्षेत्र में जहां कांग्रेस का एकमात्र चेहरा विनय कुमार है। तो वही भाजपा खेमे में इस विधानसभा क्षेत्र के लिए टिकट की दौड़ में एक नहीं बल्कि 4 से ज्यादा चेहरे शामिल है। बलबीर चौहान की यदि बात की जाए तो उन्हें केवल गुटबाजी और अपनों के भीतर घात की वजह से ही हार का सामना करना पड़ा था।

मौजूदा समय इस विधानसभा क्षेत्र में उनकी छवि पहले से ज्यादा निखर कर सामने आई है। लगातार अपने विधानसभा क्षेत्र में उनकी सक्रियता और मुख्यमंत्री के कार्यक्रम लेने में भी उन्होंने सफलता हासिल करी है। यही नहीं श्री रेणुका जी डैम निर्माण और बेरोजगारों को रोजगार के लिए अक्सर प्रदेश व राष्ट्रीय स्तर पर वे अपनी मांग रखते आए हैं। बावजूद इसके सरकार और संगठन की ओर से वर्ष 2022 के लिए अभी तक कोई रणनीति तय नहीं की गई है।

सोशल मीडिया हो या प्रिंट मीडिया हर स्तर पर केवल प्रताप सिंह रावत ही भाजपा की नाव को किनारा दिखाने की कोशिश में लगे रहते हैं। तो वही प्रदेश कार्यकारिणी के प्रमुख चेहरे किस जोड़ जुगत में लगे हैं यह ना तो क्षेत्र की जनता को मालूम है और ना ही मीडिया को आज तक इनका कोई बयान मिला है।

बरहाल, क्षेत्र के भाजपा कार्यकर्ताओं में संगठन के प्रति काफी नाराजगी भी दबी आवाज में नजर आने लग पड़ी है। ऐसे में श्री रेणुका जी विधानसभा क्षेत्र भाजपा के भगवा से फिर से वंचित रह जाए इसमें रेणुका जी भाजपा का दोष नहीं माना जा सकता।

लेटेस्ट न्यूज़ एवम अपडेट्स अपने व्हाटसऐप पर पाने के लिए हमारी व्हाटसऐप बुलेटिन सर्विस को सब्सक्राइब करें। सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करें।

वीडियो