सत्ती ने विकास कार्यों का किया निरीक्षण, कार्यों में तेजी लाने के दिए निर्देश

HNN/ ऊना वीरेंद्र बन्याल

छठे राज्य वित्तायोग के अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती ने विधानसभा क्षेत्र के तहत चल रहे विकास कार्यों का निरीक्षण करके प्रगति की समीक्षा की। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को कार्यों में तेजी लाने के निर्देश भी दिए ताकि निर्धारित समय में विकास योजनाओं को पूर्ण करके जनता को समर्पित किया जा सके। इस दौरान उन्होंने ग्राम पंचायत टब्बा के तहत विश्वकर्मा मंदिर से मोहल्ला ब्राह्मणां तक निर्माणाधीन रास्ते का निरीक्षण करते हुए बताया कि कंक्रीट से बनाए जा रहे इस रास्ते पर लगभग 69 लाख रुपये व्यय किए जा रहे हैं।

उन्होंने स्थानीय निवासियों और पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों के साथ विचार विमर्श किया कि यदि कहीं भी कोई रुकावट हो तो उसे समुचित ढंग से निपटाने के प्रयास किए जाएं, ताकि रास्ते का निर्माण पूर्ण करके इसे जनता को समर्पित किया जा सके। सतपाल सिंह सत्ती ने इसके उपरांत राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला लोअर देहलां का भी दौरा किया। उन्होंने कहा कि यह बड़े गर्व की बात है कि इस विद्यालय को उत्कृष्ट विद्यालय का दर्जा मिला है और यहां विभिन्न सुविधाओं के सुदृढ़ीकरण के लिए 44 लाख रुपये स्वीकृत हुए हैं।

उन्होंने बताया कि 1965 में इस विद्यालय को माध्यमिक पाठशाला से उच्च पाठशाला बनाए जाने का गौरव प्राप्त हुआ था। स्थानीय निवासियों के अनथक प्रयासों के परिणामस्वरुप 1997 में स्तरोन्नत होने पर इस विद्यालय के राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला का दर्जा प्राप्त हुआ। वर्तमान में यहां से छठी से 12वीं कक्षा तक 410 विद्यार्थी शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं। सत्ती ने बताया कि विद्यार्थियों की सुविधा के लिए प्रदेश सरकार द्वारा विद्यालयों की आधारभूत ढांचों सहित अन्य सुविधाओं को मजबूत किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि आवश्यकता अनुसार जहां एक ओर नए भवन, अतिरिक्त कमरों का निर्माण किया जा रहा है, वहीं विद्यार्थियों के चहुंमुखी विकास के लिए उन्हें खेल गतिविधियों के प्रति प्रेरित करने के लिए स्कूलों में खेल सामग्री प्रदान की जा रही है। इसके अलावा करोड़ों रुपये व्यय करके खेल स्टेडियम और ओपन एयर जिम बनाए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि स्कूल के लिए स्वीकृत 44 लाख रुपये विभिन्न मदों के तहत व्यय किये जायेंगे।

उन्होंने बताया कि योजना के तहत विद्यालय परिसर के सुधार एवं विकास पर 13 लाख रुपये, आईसीटी एवं स्मार्ट क्लासरुम पर 11 लाख रुपये, साईंस लैब पर 5 लाख रुपये, फर्नीचर पर 4 लाख, खेल सामग्री एवं ओपन एयर जिम पर 3 लाख, भाषा व मेथेमैटिक्स लैब पर 2 लाख, सांस्कृतिक गतिविधियों से संबंधित उपकरणों के लिए 2 लाख, बोटैनिकल गार्डन पर 2 लाख और कोविड-19 से संबंधित उपकरणों पर एक लाख रुपये खर्च किए जाएंगे।

उन्होंने जरूरी औपचारिकताओं को पूर्ण करके कार्य आरंभ करने के निर्देश दिए। इसके उपरांत उन्होंने छतरपुर ढाडा के निर्माणीधीन पंचायत घर का निरीक्षण भी किया और निर्माण कार्य को अतिशीघ्र पूरा करने के निर्देश दिए

लेटेस्ट न्यूज़ एवम अपडेट्स अपने व्हाटसऐप पर पाने के लिए हमारी व्हाटसऐप बुलेटिन सर्विस को सब्सक्राइब करें। सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करें।

वीडियो