साल का अंतिम चंद्रग्रहण आज, गर्भवती महिलाएं गलती से भी ना करें…

HNN / धर्मशाला

साल का आखिरी चंद्र ग्रहण आज 12:48 बजे शुरू होगा और 4:47 बजे समाप्त होगा। ग्रहण का मध्यकाल दोपबर बाद 2:34 बजे रहेगा। इस बार का चंद्र ग्रहण भारत के लिए आंशिक चंद्र ग्रहण होगा। क्योंकि यह पूरा दिखाई नहीं देगा। चूंकि ग्रहण उत्तर भारत में दिखेगा नहीं इसलिए सूतक काल भी नहीं होगा। लेकिन लोगों के मन अब सवाल होगा कि यह आंशिक चंद्रग्रहण है जो ग्रहण की सावधानिया बरतनी होंगी या नहीं? कुछ ज्योतिषाचार्यों के अनुसार, चंद्र ग्रहण आंशिक है इसलिए सावधानियां बरतनी चाहिए।

वहीं कुछ का मानना है कि यह ग्रहण विशेषकर उत्तर भारत के लोगों के लिए खास महत्व नहीं रखता। लेकिन आप अपने पंडित या घर के बुजुर्ग से इस बारे में सलाह के अनुसार उपाय अपना सकते हैं। ग्रहण काल में गर्भवती महिलाओं को विशेष सावधानी बरतनी चाहिए। खासकर ग्रहण के दौरान अपने पास किसी भी प्रकार का धारदार हथियार, चाकू, असलाह आदि न रखें।

ग्रहण के दौरान ज्यादा से ज्यादा समय मंत्र जाप करें। ग्रहण के बाद स्नान दान करें, इससे ग्रहण का दुष्प्रभाव कम होगा। जानकारों के मुताबिक ग्रहण काल में गर्भ में पल रहे बच्चों को नकारात्मक ऊर्जा से बचाने के लिस विभिन्न उपाय अपनाने चाहिए। गर्भवती स्त्रियों को घर से बाहर नहीं निकलने की सलाह दी जाती है। बाहर निकलना जरूरी हो तो गर्भ पर चंदन और तुलसी के पत्तों का लेप कर लें। इससे ग्रहण का प्रभाव गर्भ में पल रहे शिशु पर नहीं होगा।

लेटेस्ट न्यूज़ एवम अपडेट्स अपने व्हाटसऐप पर पाने के लिए हमारी व्हाटसऐप बुलेटिन सर्विस को सब्सक्राइब करें। सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करें।

वीडियो