सिरमौर ट्रैफिक पुलिस का स्मार्ट वर्क मिले 36 एंड्रॉयड फोन

वन नेशन वन चालान पीएम मोदी की मुहिम, देश के किसी भी कोने में फोन पर मिलेगा चालान का मैसेज.. सावधान चालान के वक्त नहीं कर पाएंगे हेरा फेरी. ऑफेंस होगा रिकॉर्ड

HNN News नाहन

जिला सिरमौर की ट्रैफिक पुलिस अब स्मार्टफोन से लैस हो गई है। फिलहाल जिला के लिए कुल छत्तीस सैमसंग के गैलेक्सी a50 मोबाइल आए हैं। ट्रैफिक पुलिसकर्मी चालान करने के दौरान कंपाउंड केस में बाकायदा वाहन की रिकॉर्डिंग भी करेंगे।

सबसे बड़ी बात तो यह होगी कि ई चालान में किसी भी प्रकार की हेराफेरी कर पाना असंभव होगा। क्योंकि यह फोन लाइसेंस अथॉरिटी से भी कनेक्टिविटी में होंगे। वाहन किसके नाम है इसकी जानकारी भी चालान कर्मी को फोन पर मिल जाएगी।

सड़क सुरक्षा को लेकर सिरमौर ट्रैफिक पुलिस बताओ मित्र पुलिस की भूमिका भी अदा करती है। किसके साथ साथ लोगों को सुरक्षा के नियमों के बारे में भी अवगत कराया जाता है। चालान के दौरान ट्रैफिक पुलिस यह भी बताती है कि आप अगली बार यातायात के नियमों का उल्लंघन ना करें।

अब यदि तीन बार एक ही ऑफेंस में चालान होता है। तो ट्रैफिक पुलिस लाइसेंस अथॉरिटी को डीएल सस्पेंशन की भी सिफारिश भेजती है। यानी एक ही ऑफेंस में अगर आपका तीन बार चालान होता है तो आपका लाइसेंस निरस्त भी किया जा सकता है।

चालान करते वक्त पारदर्शिता बनी रहे इसको लेकर चालान कर्मी भी सर्विलेंस पर होंगे। जिला सिरमौर के लिए फिलहाल 36 एंड्रॉयड फोन उपलब्ध कराए गए हैं। जिसमें नाहन ट्रैफिक पुलिस को फिलहाल 3 एंड्राइड सौपे गए हैं।

वहीं ट्रैफिक पुलिस ने यह भी अपील करते हुए कहा कि अपने वाहन में आगे या पीछे कहीं भी अपना कांटेक्ट नंबर भी जरूर डालें। ट्रैफिक पुलिस का इसके पीछे मुख्य उद्देश्य वाहन मालिक को पहले सूचित भी करना होता है। बावजूद इसके यदि ट्रैफिक पुलिस के संदेश के बाद भी कथित व्यक्ति अपना वाहन अवैध पार्किंग से नहीं हटाता है तो ट्रैफिक पुलिस उसका चालान करेगी।

जिसके बाद यदि वाहन चालक का चस्पा किया गया चालान भले ही गाड़ी से हट जाता है उसके बावजूद भी ई चालान के माध्यम से मैसेज वाहन मालिक के फोन पर आ जाएगा।

उधर जिला सिरमौर पुलिस कप्तान अजय कृष्ण शर्मा ने बताया कि फिलहाल जिला सिरमौर में ट्रैफिक पुलिस के लिए 36 एंड्रॉयड फोन उपलब्ध करवाए गए हैं।