सिरमौर वासियों को अपने ही प्रदेश में पंहुचने के लिए जाना पड़ता है वाया चंडीगढ़

-प्रदेश की दूसरी राजधानी धर्मशाला के लिए सराहां से दशकों की मांग के बाद भी नहीं बस

HNN News/नाहन

प्रदेश की दूसरी राजधानी धर्मशाला तथा जिला कांगड़ा के प्रसिद्ध शक्ति पीठों के लिए हिमाचल निर्माता डॉ. वाईएस परमार के गृह क्षेत्र पच्छाद-सराहां से दशकों बाद भी निगम की बस सेवा शुरू नहीं हो पाई है। पच्छाद वासी करीब पांच दशक से सराहां वाया कुमारहट्टी-कुनिहार-भराड़ीघाट-हमीरपुर-ज्वालाजी-कांगडा-धर्मशाला बस सेवा चलाई जाने की मांग कर रहे है।

गौर हो कि इस रूट से कोई भी बस सेवा प्रदेश के प्रसिद्ध शक्तिपीठों को नहीं चलती है। हर साल नवरात्रों में जिला सिरमौर के साथ उत्तराखंड के हजारों लोग ज्वालाजी, चिंपूर्णी, नैनादेवी, चामुंडा इत्यादि शक्तिपीठों के दर्शन करने के लिए जाते हैं। मगर बस सेवा न होने के कारण लोगों को टैक्सी वाहनों या निजी वाहनों का सहारा लेना पड़ता है।

इसके अतिरिक्त पच्छाद क्षेत्र के सैकड़ो छात्र हमीरपुर, कांगड़ा व धर्मशाला के विभिन्न शिक्षण संस्थानों में शिक्षा ग्रहण करते है। वही सैकडों कर्मचारी स्कूल शिक्षा बोर्ड, पालमपुर विवि सहित कई संस्थानों में कार्यरत है। जिन्हें पच्छाद क्षेत्र से हमीरपुर-कांगडा-धर्मशाला के लिए सीधी बस सेवा न होने से इन छात्रों व कर्मचारियों को अपने ही प्रदेश में पंहुचने के लिए वाया चंडीगढ़ जाना पडता है।

क्षेत्र के लोगों द्वारा पांच दशकों में में कई दर्जनों बार इस बस मांग को लेकर आरएम एचआरटीसी, उपायुक्त सिरमौर व परिवहन मंत्रियों को ज्ञापन सौंप चुके है। मगर पिछडे जिले के लोगों की मांग पर सरकार कोई कार्रवाही नहीं कर रही है। जबकि चुनाव के पुर्व भाजपा नेताओं ने इस बस को चलाने का आश्वसन दिया था।

पूर्व बीडीसी उपाध्यक्ष पच्छाद विष्णु दत्त, प्रधान सराहां नरेन्द्र कुमार, जिला परिषद सदस्या दयाल प्यारी, प्रधान बाग पशोग प्रकाश दत भाटिया, पूर्व जिला परिषद सदस्य राजेश्वरी शर्मा, पंचायत प्रधान नैनाटिक्कर शिशु देवी, प्रधान सादनघाट मानसिंह, प्रधान डिलमन पूनम ठाकुर, प्रधान कथाड़ हेमन्त अत्री इत्यादि ने प्रदेश सरकार से इस नई बस सेवा को शुरू करने के लिए कई ज्ञापन आरएम नाहन के माध्यम ये प्रस्ताव बनाकर परिवहन मंत्री को भेजा है, जिस पर अभी तक कोई निर्णय न होने से पच्छाद वसियों में भारी रोष है।

क्या कहना है नाहन एचआरटीसी के आरएम रशिद शेख का

उन्होंने बताया की अभी तक सराहां से वाया कुमारहट्टी-कुनिहार-ज्वाला जी-धर्मशाला बस को चलाने के लिए स्वीकृत नहीं मिली है। जैसी ही बस को चलाने के लिए स्वीकृती आयेगी बस को चला दिया जायेगा।

क्या कहना है विधायक सुरेश कश्यप का

उन्होंने बताया की सराहां से धर्मशाला बस को चलाने के लिएं मांग पत्र परिवहन मंत्री को सौंपा है। आने वाले समय में इस बस सेवा शुरू करवा दिया जायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *