स्कूल बंद होने के निर्देशों के बाद नाहन के एक निजी स्कूल पहुंचे बच्चे

सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंचे उपनिदेशक उच्च शिक्षा और एसडीएम

HNN / नाहन

प्रदेश सरकार और शिक्षा विभाग ने कोरोना संक्रमण के चलते 28 अगस्त तक स्कूलों को बंद रखने के निर्देश जारी किए हैं। स्कूलों में केवल स्टाफ को आने के लिए निर्देश दिए गए हैं। मगर इन निर्देशों का पालन कुछ निजी स्कूलों में होता नजर नहीं आ रहा है। ऐसा ही कुछ मंजर सोमवार को जिला मुख्यालय नाहन स्थित एक निजी स्कूल में देखने को मिला। यहां पर स्कूल में बच्चों को बुलाया गया था।

जब इसके बारे में पड़ताल की गई तो स्कूल प्रबंधन का कहना था कि कुछ बच्चे अपने सर्टिफिकेट लेने और डाउट क्लीयर करने आए थे। जानकारी के अनुसार निजी स्कूल आदर्श विद्या निकेतन नाहन में सोमवार को स्कूल में बच्चों को बुलाने का मामला सामने आया है। सोमवार को छात्र स्कूल पहुंचे, जिसकी तस्वीरें कैमरे में कैद हुई भी हुई हैं। जब मीडिया कर्मियों द्वारा इस बारे में जवाब मांगा गया तो स्कूल प्रबंधन की महिला कर्मी उल्टा मीडिया कर्मियों को पाठ पढ़ाने लगी।

महिला कर्मी का कहना था कि जब हिमाचल में राजनीतिक रैलियां हो सकती हैं तो बच्चे स्कूल क्यों नहीं आ सकते। उधर, मामले की सूचना उपनिदेशक उच्च शिक्षा सिरमौर को मिली तो वह भी मौके पर पहुंचे और स्कूल प्रबंधन को सरकार और विभाग की ओर से जारी एसओपी का पालन करने के निर्देश दिए। इसके अलावा एसडीएम नाहन भी मौके पर आए। स्कूल के प्रिंसिपल केके चंदोला ने कहा कि सोमवार को बच्चे स्कूल नहीं बुलाए गए थे।

उन्होंने कहा कि कुछ बच्चों को अपने सर्टिफिकेट लेने थे, वे स्कूल आए। इसलिए बच्चों को पढ़ाई के चलते डाउट क्लीयर करने थे। उन्होंने कहा कि स्कूल में सरकार और विभाग की ओर से जारी दिशा निर्देशों का कढ़ाई से पालन किया जा रहा है। उपनिदेशक उच्च शिक्षा जिला सिरमौर कर्म चंद ने कहा कि सरकार द्वारा 28 अगस्त तक स्कूलों को बंद रखने के निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि सूचना मिलने पर वह निजी स्कूल में निरीक्षण पर गए थे। इस दौरान उन्होंने स्कूल प्रबंधन को सरकार द्वारा जारी आदेशों का पालन करने के निर्देश दिए।

लेटेस्ट न्यूज़ एवम अपडेट्स अपने व्हाटसऐप पर पाने के लिए हमारी व्हाटसऐप बुलेटिन सर्विस को सब्सक्राइब करें। सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करें।

वीडियो