हस्तशिल्प एवं हथकरघा में कौशल विकास के लिए चलाए जा रहे प्रशिक्षण कार्यक्रम, 10 लाख रुपए….

HNN / लाहौल स्पीति

लाहौल-स्पीति में हस्तशिल्प एवं हथकरघा उद्योग को विकसित करने के उद्देश्य से हिमाचल प्रदेश राज्य हस्तशिल्प व हथकरघा निगम की सहायता से कई प्रशिक्षण कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं। इनसे यहां के पारम्परिक हस्तशिल्प एवं हथकरघा उत्पाद की राष्ट्रीय स्तर पर मांग बढ़ रही है वहीं इन प्रशिक्षिण कार्यक्रमों से हस्तशिल्प एवं हथकरघा उत्पाद में बेहतर गुणवत्ता लाने का भी प्रशिक्षण दिया जा रहा है।

यह जानकारी उपायुक्त लाहौल स्पीति नीरज कुमार ने दी। हिमाचल प्रदेश राज्य हस्तशिल्प व हथकरघा निगम के प्रबन्धक दीपक पूरी ने बताया कि निगम द्वारा हर वर्ष प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किये जाते हैं। लाहौल में वर्तमान में पांच प्रशिक्षण कार्यक्रमों में 50 लोगों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है। वहीं आज से टिंगरित, युरनाथ, उदयपुर में हस्तबुनाई का प्रशिक्षण कार्यक्रम शुरू किया गया है।

जिसके लिए 10 लाख रुपये का बजट ख़र्च किया जाएगा तथा एक छह माह का कार्यक्रम है। इसमें प्रशिक्षुओं को 2400 प्रतिमाह का वज़ीफ़ा व टूलकिट प्रदान की जाएगी ,साथ ही इसके लिए मास्टर ट्रेनर को 7500 रुपये प्रतिमाह प्रदान किये जायेंगे।

लेटेस्ट न्यूज़ एवम अपडेट्स अपने व्हाटसऐप पर पाने के लिए हमारी व्हाटसऐप बुलेटिन सर्विस को सब्सक्राइब करें। सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करें।

वीडियो