हिमाचल निर्माता के घर से कुलदीप राठौर का “सेव हिमाचल” शुरू

पच्छाद विधानसभा क्षेत्र से उपचुनाव में जीआर मुसाफ़िर के नाम की खुले मंच से घोषणा

HNN News बागथन नाहन

हिमाचल प्रदेश में जयराम सरकार औद्योगिक निवेश के नाम पर हिमाचल प्रदेश को बेचने का षड्यंत्र रच रही है जबकि कांग्रेस पार्टी इनके किसी भी मंसूबों को किसी भी कीमत पर कामयाब नहीं होने देगी यह बात प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप राठौर ने हिमाचल निर्माता के पैतृक गांव में आयोजित उनकी 113वीं जयंती समारोह के दौरान कही।

कुलदीप राठौर ने कहा कि उनके इन मंसूबों पर पानी फेरने के लिए अब प्रदेश में कांग्रेस पार्टी ” सेव हिमाचल” अभियान आज से ही शुरू करने जा रही है।

प्रदेश कांग्रेस अपने पूरे लाव लश्कर के साथ डॉ यशवंत सिंह परमार जयंती आयोजन समिति के आह्वान पर बागथन में रविवार को पहुंची थी।

इस दौरान भारी जनसमूह को सम्बोधित करते हुए प्रदेश अध्यक्ष ने भाजपा सरकार को घेरने की पूरी कोशिश करी। तो वहीँ डॉ. परमार को अपना आदर्श बताते हुए यह भी घोषणा करी कि आज के बाद तमाम बड़े नेताओ के कार्यक्रम जो पहले PCC कार्यालय में मनाए जाते थे अब यह कार्यक्रम कांग्रेस जनता के बीच में जाकर मनाएगी।

पझौता आंदोलनकारियों के परिजन व स्वतंत्रता सैनानियों के परिवार के सदस्य

बीजेपी की आज यह मजबूरी हो गई है कि वे महात्मा गाँधी और सरदार पटेल जैसे नामो का सहारा लेकर आगे आ रही है तो वही प्रज्ञा ठाकुर व नाथूराम गोडसे की विचारधारा वाले नेताओं को टिकट देकर संसद में भी ला रही है। भाजपा का कोई इतिहास नहीं है।

उन्होंने कहा कि भाजपा का यह भी नारा है कि स्टेट हुड मारो ठुड। राठौर ने कहा कि आज फिर से भाजपा 118 से छेड़छाड़ कर हमारे अधिकारों को छीनना चाहती है।

विकास के नाम पर जनता की जमीने छीनी जा रही है। उन्होंने कहा कि विकास करना अच्छी बात है मगर गरीब जनता के हितों को ताक पर रख कर वे ऐसे विकास का विरोध करेंगे,जिससे गरीबों की जमीने छीन जाए।

इसलिए अब प्रदेश कांग्रेस अब “सेव हिमाचल” नारे के साथ प्रदेश व्यापी अभियान शुरू करने जा रही है। इसके लिए चाहे कांग्रेस को जेल भरो आंदोलन छेड़ना पड़े या फिर सड़कों पर उतर कर धरने प्रदर्शन करने पड़े।

उन्होंने भाजपा सरकार पर आरोप लगते हुए कहा कि आज प्रदेश क़र्ज़ में डूबता जा रहा है आने वाले समय में प्रदेश के सामने चुनौती होगी। उन्होंने कहा कि झूठ के पाव नहीं होते जो साम्प्रदाइक ध्रुवीकरण पर चुनाव करवाते है, उनके इन्ही मंसूबों के चलते आज पूरे देश में एकता और अखंडता को खतरा पैदा हो गया है।

राठौर ने एक बार फिर से EVM पर सवाल उठाते हुए कहा कि भाजपा किसी भी सूरत पर वैलेट पेपर से चुनाव नहीं होने देना चाहती है जबकि देश के सभी राजनितिक दल EVM पर सवाल उठा चुके है। उन्होंने चैलेंज के साथ कहा कि भाजपा अगर उप चुनाव वैलेट पर करवाती है तो निश्चित ही उनकी हार के आंकड़े चौंकाने वाले होंगे।

वही पूर्व प्रदेश अध्यक्ष ठाकुर कौल सिंह ने कहा कि बीजेपी सेब और संतरे की लड़ाई करवाती है ऊपरी व निचली हिमाचल के नाम पर भेदभाव पैदा करती है जबकि कोंग्रेस पार्टी सभी धर्मो को साथ लेकर बगैर किसी भेदभाव के चलती है।

अब प्रदेश की जनता को फैसला करना है कि जो एक सामान विकास व सबको साथ लेकर चलने वाली कांग्रेस के साथ चलना है या फिर प्रदेश की जनता के हितों को बेचने वाली सरकार के साथ।

वहीँ पूर्व उद्योगमंत्री कुलदीप कुमार ने जनसमूह को सम्बोधित करते हुए पझौता आंदोलनकारी स्वतंत्रता सैनानियों के उपस्थित परिवारों को प्रदेश व देश की आजादी की धरोहर बताते हुए कहा कि जैसे पझौता आंदोलन से आजादी की चिंगारी उठी थी उसी तरह आज फिर इस जयंती समारोह मंच से भाजपा विरोधी जो चिंगारी उठी है वह अब पूरे प्रदेश में फ़ैल जाएगी।

कुलदीप कुमार ने कहा कि सबका साथ सबका विकास का नारा देती है जबकि उनका असली नारा सबका साथ सबका विनाश है। बहुत जल्द इनकी तमाम विनाशकारी लीलाएं समाप्त ओने जा रही है। जल्द ही प्रदेश में कांग्रेस का झंडा फिर से बुलंद होगा फिर से प्रदेश में अमन और चैन होगा।

इस मौके पर तमाम दिग्गज कोंग्रेसी नेताओं ने पच्छाद क्षेत्र के प्रमुख कोंग्रेसी नेता व पूर्व विधानसभा अध्यक्ष G.R. मुसाफिर को उपचुनाव में भरी मतों से जीताने का आह्वान भी किया।