हिमाचल में ऑनलाइन माध्यम से जमकर खरीदारी कर रहे लोग, दुकानदार चिंतित…..

HNN/ शिमला

हिमाचल प्रदेश में ऑनलाइन माध्यम से लोग जमकर खरीददारी कर रहे हैं। इससे ऑनलाइन व्यापार तेजी से मजबूत हो रहा है, तो इसी के साथ छोटे दुकानदारों पर उनकी रोजी-रोटी छिनने का खतरा भी मंडराने लगा है। त्योहारी सीजन में ऑनलाइन कंपनियां कपड़े, मोबाइल्स, गीजर, मिक्सी, एलईडी सहित अन्य सामान पर डिस्काउंट देती है। इसी का नतीजा है कि आधे से ज्यादा लोग ऑनलाइन माध्यम से ही शॉपिंग करते हैं।

ऐसे में इसका सीधा-सीधा असर व्यापारियों पर पड़ रहा है। हालांकि त्योहारी सीजन के चलते बाजारों में खूब रौनक है। लोग खरीदारी भी कर रहे हैं परंतु ज्यादा तवज्जो वह ऑनलाइन शॉपिंग को ही दे रहे हैं। आप यह जानकर हैरान रह जाएगी कि हिमाचल प्रदेश में रोजाना करीब सौ करोड़ की आनलाइन खरीदारी हो रही है। आजकल आधे से ज्यादा लोग छोटी से छोटी चीजों के लिए ऑनलाइन कंपनियों पर निर्भर है। ऐसे में प्रदेशभर के दुकानदारों को 60 फीसद का नुक्सान उठाना पड़ रहा है।

हिमाचल प्रदेश व्यापार मंडल के अध्‍यक्ष सोमेश शर्मा का कहना है कि आनलाइन शापिंग से दुकानदारों की जीविका खतरे में हैं। कोविड काल में ऑनलाइन व्यापार पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया था। केवल आवश्यक सेवाओं को ही अनुमति दी गई थी। लेकिन बाद में अनलॉक शुरू होने के साथ ही ऑनलाइन बाजार ने तेजी से अपने पांव जमाए हैं। यदि आनलाइन शापिंग पर नियंत्रण नहीं किया गया तो गली-मोहल्ले की दुकानदारी दो-चार साल बाद गायब हो जाएगी।

लेटेस्ट न्यूज़ एवम अपडेट्स अपने व्हाटसऐप पर पाने के लिए हमारी व्हाटसऐप बुलेटिन सर्विस को सब्सक्राइब करें। सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करें।

वीडियो