हेलिकॉप्टर घोटालाः कांग्रेस ने कॉन्फ्रेंस कर मोदी सरकार पर किया पलटवार ।

HNN News / नई दिल्ली

आज कांग्रेस के प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने पीएम मोदी पर आरोप लगाया कि चौकीदार अगस्ता में भी दागदार निकला है।अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी चॉपर घोटाला में कथित तौर पर सोनिया गांधी का नाम आने से परेशान हुई कांग्रेस नेेेे प्रेस कॉन्फ्रेंस कर आरोप लगाया कि चौकीदार अगस्ता में भी दागदार निकला।

जबकि सरकार के द्वारा कंपनी की 23 मई 2014 को 228 मिलियन यूरो की बैंक गारंटी जब्त की गई। 2068 करोड़ रुपया वसूल कर लिया और तीनों हेलीकॉप्टर भी जब्त कर लिए यानी 1620 करोड़ का भुगतान के बदले दुगना पैसा 2954 करोड़ रुपया जब्त किया। वहीं 15 फरवरी 2013 को अगस्ता को ब्लैकलिस्ट करने की कार्रवाई शुरू की जो 3 जुलाई 2014 को पूरा हुई।

अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी चॉपर घोटाला मामले में क्रिश्चियन मिशेल ने कथित तौर पर मिसेज गांधी का नाम लिया है। उसके बाद बीजेपी कांग्रेस पर हमलावर हो गई और पार्टी पर करारे वार किए जिसके जवाब में कांग्रेस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर पीएम मोदी पर आरोप लगाए कि क्रिश्चियन मिशेल पर गांधी परिवार का नाम लेने का दबाव बनाकर पीएम मोदी कांग्रेस की छवि को दागदार करना चाहते हैं जबकि चौकीदार खुद दागदार है।

मोदी सरकार आने के बाद 22 अगस्त 2014 में मोदी सरकार ने अगस्ता की ब्लैकलिस्टिंग खत्म कर दी, जबकि सीबीआई जांच चल रही है। 3 मार्च 2015 में अगस्ता को मेक इन इंडिया का हिस्सा बना लिया। 8 जनवरी 2018 को इटली की अदालत ने 12 हेलीकॉप्टर की बिक्री के मामले में कम्पनी के अधिकारियों को सभी आरोपों से बरी कर दिया।

मोदी सरकार ने अगस्ता वेस्टलैंड को ब्लैक लिस्ट से निकालकर एफआईपीबी निवेश की इजाजत दी और इसे मेक इन इंडिया में शामिल किया। इसके बाद नौसेना के लिए 100 हेलीकॉप्टर खरीदे। वहीं अंतराष्ट्रीय अदालत में मुकदमा हारने के बाद अपील की जहमत नहीं उठाई। अब मिशेल के जरिये झूठ का शोर मचाया जा रहा है।

कांग्रेस ने पीएम मोदी से पूछा कि अगस्ता कंपनी को ब्लैक लिस्ट से बाहर क्यों किया और ऐसी कंपनी जिसका घोटाले में नाम आ रहा था तो उसको ब्लैकलिस्ट से निकालने के पीछे मोदी सरकार के किया छिपे हुए हित थे, इसका खुलासा करना चाहिए।

कांग्रेस ने ये भी कहा की अभी तो मोदी जी बच जाएंगे क्योंकि ईडी उनके हाथ में है लेकिन 2019 में कांग्रेस की सरकार बनने पर अगस्ता घोटाले की जांच होगी। कांग्रेस ने बीजेपी के लगाए सभी आरोपों को नकारते हुए कहा कि केन्द्र सरकार गांधी परिवार को फंसाने के लिए एजेंसियों का इस्तेमाल कर रही है. ईडी इम्बैरेसिंग डिजास्टर बन गया है। पूर्व केंद्रीय मंत्री आर पीएन सिंह ने भी कहा कि मिशेल पर एक परिवार का नाम लेने का दबाव है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *