10वीं व 12वीं कंपार्टमेंट फीस को लेकर ABVP ने शिक्षा बोर्ड के खिलाफ खोला मोर्चा

HNN News/ शिमला/नाहन

ABVP ने 10वीं व 12वीं कक्षा के छात्रों से कंपार्टमेंट परीक्षा के लिए ली जा रही 2450 फीस का विरोध किया है। एबीवीपी का आरोप है कि शिक्षा बोर्ड और स्कूल प्रबंधन की लेटलतीफी का खामियाजा स्कूल विद्यर्थियों को भुगतना पड़ रहा है।

एबीवीपी ने संघर्ष का भी ऐलान किया है। एबीवीपी ने शिक्षा बोर्ड से मांग की है कि फीस को कम करके 450 किया जाए और जिन विद्यार्थियों से 2450 फीस ली गई है, उन्हें वापस करें। वहीं, अटल स्कूल वर्दी योजना के अंतर्गत स्कूल के विद्यार्थियों को दी गई वर्दी की गुणवत्ता को लेकर भी सवाल उठाए हैं।

एबीवीपी के प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य अंशुल शर्मा ने बताया कि यदि स्कूल शिक्षा बोर्ड ने सोमवार तक 10वीं व 12वीं कक्षा के कंपार्टमेंट के छात्रों की फीस घटाकर 2450 से 450 नहीं की, तो एबीबीपी पूरे प्रदेश में शिक्षा बोर्ड के खिलाफ आंदोलन करेगी।

अंशुल शर्मा ने बताया कि शिक्षा बोर्ड और स्कूल प्रबंधन की लेटलतीफी का खामियाजा स्कूल के विद्यार्थियों को भुगतना पड़ रहा है। शिक्षा बोर्ड ने छात्रों से कंपार्टमेंट भरने के लिए पहले तो ऑनलाइन आवेदन मांगे, लेकिन गेट-वे लिंक स्कूल प्रबंधन को नहीं दिया। इसके चलते छात्र आवेदन नहीं कर सके।

जब गेट-वे लिंक नहीं खुला तो एक पेपर की फीस 450 से बढ़ाकर 2450 रुपए कर दी। अब शिक्षा बोर्ड अपना पल्ला झाड़ रहा है। अंशुल शर्मा ने बताया कि प्रदेश सरकार ने अटल स्कूल वर्दी योजना के तहत स्कूलों के विद्यार्थियों को घटिया वर्दी सप्लाई की, इसका विद्यार्थी परिषद कड़ा विरोध करती है। साथ ही घटिया वर्दी सप्लाई करने वाले ठेकेदार पर पेनल्टी लगाने की मांग करती है। विद्यार्थियों को नई व बढ़िया वर्दी दी जाए।

एबीवीपी ने स्कूल बैग की क्वॉलिटी पर भी सवाल उठाए। आशंका जताई कि कहीं न कहीं स्कूल वर्दी व बैग की क्वालिटी में बड़ा घोटाला है। विद्यार्थी परिषद इस पूरे प्रकरण की तय समय पर जांच और दोषियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की मांग की है।

10वीं और 12वीं कंपार्टमेंट परीक्षा शुल्क बढ़ोतरी पर क्या कहता है बोर्ड
बोर्ड प्रबंधन का कहना है कि 10वीं और जमा दो कक्षाओं की कंपार्टमंट के परीक्षा शुल्क में किसी प्रकार की बढ़ोतरी नहीं की गई है। छात्रों को समय पर अपना प्रवेश पत्र न भरने के कारण अब दो हजार विलम्ब शुल्क तथा 450 कंपार्टमंट शुल्क सहित कुल 2450 रुपए जमा करवाने पड़ रहे हैं।

मार्च 2020 में संचालित की जाने वाली मैट्रिक व जमा दो श्रेणी की वार्षिक परीक्षा के लिए कंपार्टमेंट, अतिरिक्त विषय डिप्लोमा होल्डर सहित, अंग्रेजी के पात्र परीक्षार्थियों के प्रवेश पत्र 9 अक्टूबर से भरे जा रहे हैं।

10वीं और 12वीं कंपार्टमेंट एडमिशन फीस 450 रखी गई थी। 31 अक्टूबर तक परीक्षार्थी बिना लेट फीस आवेदन कर सकते थे। साथ ही 15 नवंबर तक एक हजार लेट फीस से आवेदन किए जा सकते थे। 30 नवंबर तक दो हजार लेट फीस के साथ आवेदन स्वीकार किए जा रहे हैं।