20 लाख दो नहीं तो करूंगी रेप का मामला दर्ज और योगेश ने कर ली आत्महत्या

सुसाइड नोट में हुआ बड़ा खुलासा ,राजगढ़ की एक महिला और 2 व्यक्तियों के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला दर्ज,

HNN News नाहन

जे एम आई सी कोर्ट शिलाई में तैनात क्लास फोर्थ योगेश कुमार की आत्महत्या में नया मोड़ आ गया है। बाल्मीकि बस्ती नाहन निवासी योगेश की पत्नी किरण ने कच्चा टैंक चौकी में घर से बरामद किए अपने पति के सुसाइड नोट को पुलिस को सौंप दिया है।

बरामद किए गए सुसाइड नोट के बाद कच्चा टैंक पुलिस ने सिरमौर के राजगढ़ निवासी एक महिला व दो व्यक्तियों के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला दर्ज कर दिया है।

क्या है मामला—-

बता दें कि नाहन बाल्मीकि बस्ती निवासी 32 वर्षीय योगेश राजगढ़ न्यायालय से एक महीना पहले ट्रांसफर होकर शिलाई के जेएमआईसी कोर्ट में तैनात हुआ था।बीते 11 मई को अचानक योगेश ने अपने घर पर जहरीला पदार्थ खाकर आत्महत्या कर ली थी।

पुलिस ने आतम हत्या का मामला दर्ज कर शव का पोस्टमार्टम नाहन मेडिकल कॉलेज से कराने के बाद परिजनों को सौंप दिया था।जिसके बाद कच्चा टैंक पुलिस आत्महत्या के कारणों को जांचने के लिए मृतक योगेश के घर पर भी गई।

परंतु उन्हें उस दौरान आत्महत्या किए जाने का कोई सुसाइड नोट अथवा कोई कारण नहीं मिला।मगर 13 मई को मृतक योगेश की पत्नी किरण जब घर में बिस्तर झाड़ रही थी तो उसे चादर के नीचे योगेश के हाथ से लिखा सुसाइड नोट मिला।

मृतक की पत्नी कुछ सुसाइड नोट को लेकर कच्चा टैंक पुलिस चौकी पहुंच गई। सुसाइड नोट को पढ़ने के बाद पुलिस भी सकते में आ गई। क्योंकि सुसाइड नोट में राजगढ़ की कथित महिला के द्वारा झूठे रेप केस में फंसाने की एवज में 20 लाख रुपए की मांग की गई थी।

मृतक के द्वारा महिला के साथ साथ राजगढ़ के ही दो व्यक्ति के नाम भी शामिल किए हैं।पुलिस ने सुसाइड को आधार मानते हुए उसकी पत्नी की ओर से अंतर्गत धारा 306 तथा 34 भारतीय दंड संहिता के तहत दज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।

पता तो यह भी चला है कि कथित महिला के द्वारा राजगढ़ थाने में मृतक के खिलाफ बीते 9 मई को  अंतर्गत धारा 376 रेप का का मामला भी दर्ज कराया गया था।

उधर मामले की पुष्टि करते हुए सदर थाना एसएचओ मानवेंद्र ठाकुर ने बताया कि मृतक योगेश का सुसाइड नोट बरामद किए जाने के बाद उसकी पत्नी की ओर से अंतर्गत धारा 306 तथा 34 आईपीसी में दर्ज किया गया है।

Test