3 दिन के भीतर 2,66,238 की नकदी के साथ पकड़े 28 जुआरी

HNN/ संगड़ाह

सिरमौर पुलिस की एसआईयू टीम के साथ एसडीपीओ संगड़ाह द्वारा पिछले 3 दिन में 28 आरोपी जूआबाजों को 2,66,238 की नकदी के साथ पकड़ा जा चुका है। गत रात्रि जहां हरिपुरधार में डीएसपी के नेतृत्व मे 12 सदस्यों के गिरोह को 2,00,738 रूपए की नकदी के साथ जुआ खेलते पकड़ा गया, वहीं इनसे कुछ ही दूरी पर 8 अन्य आरोपियों को 23,560 रूपए की नकदी के साथ पकड़ा गया।

इससे पहले शुक्रवार रात्रि संगड़ाह-हरिपुरधार मार्ग पर सुंदरघाट में 42,940 रूपए की नकदी के साथ 8 जुआरियों की धरपकड़ की जा चुकी है।‌ एसडीपीओ शक्ति सिंह के अनुसार इन सभी आरोपियों के खिलाफ गैंबलिंग एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया है तथा तहकीकात जारी है। गौरतलब है कि, क्षेत्र मे दीपावली के दौरान जुआ खेलने की कुप्रथा अब तक कायम है। इससे पहले गत माह तक पुलिस उपमंडल संगड़ाह मे डीएसपी के नेतृत्व में नशा व ड्रग माफिया के खिलाफ अभियान छेड़ा गया था।

डीएसपी की मौजूदगी मे एसआईयू टीम द्वारा गत 17 अक्तूबर को जहां हरिपुरधार मे पिंजौर के एक शख्स से 15.30 ग्राम हेरोइन बरामद की गई, वहीं 18 को बस अड्डा बाजार संगड़ाह में एक दुकानदार के गल्ले से 127 ग्राम चरस बरामद की। इससे पहले 15 अक्टूबर को नौहराधार में 250 पेटी तथा 12 अक्टूबर को खड़कुली में 70 पेटी हरियाणा में बिकने वाली अवैध शराब बरामद की गई।‌

इसके अलावा पुलिस थाना क्षेत्र संगड़ाह के अंतर्गत आने वाले हरिपुरधार मे गत 25 मई को एक शख्स से 2 किलो 310 ग्राम चुरा पोस्त अथवा डोडे बरामद किए गए, जबकि 6 मई को गत्ताधार में एक दुकानदार से 104 ग्राम चरस बरामद हुई। इसके अलावा गत मार्च माह में हरिपुरधार में एक व्यक्ति से जहां 2 किलो 518 ग्राम चरस बरामद की गई, वहीं इसी माह एक अन्य शख्स से 670 ग्राम चरस जानकारी के अनुसार बरामद हुई है।

इससे पूर्व फरवरी माह में हरिपुरधार के समीप एक शख्स से 828 ग्राम तो 24 जुलाई को 670 ग्राम चरस बरामद की जा चुकी है। इसके अलावा एसडीपीओ संगड़ाह शक्ति सिंह के नेतृत्व में गत पहली मार्च को ददाहू के 2 ग्राम व 8 मई को 11 ग्राम हेरोइन पकड़ी गई तथा 5, अक्टूबर को नाया मे एक दुकान से 5 पेटी अवैध शराब पकड़ी जा चुकी है।

13, जुलाई, 2020 को संगड़ाह मे डीएसपी शक्ति सिंह की नियुक्त के बाद से पुलिस चरस, हेरोइन, अफीम व अवैध शराब का धंधा करने वाले तीन दर्जन के करीब आरोपी अपरधियों को सलाखों के पीछे पंहुचा चुकी है। पुलिस की इस मुहिम की एक तरफ जहां लोग तारीफ कर रहे हैं, वही शांत समझे जाने वाले इस इलाके में नशे के बढ़ते धंधों व जूआबाजी से क्षेत्रवासी चिंतित भी है।

लेटेस्ट न्यूज़ एवम अपडेट्स अपने व्हाटसऐप पर पाने के लिए हमारी व्हाटसऐप बुलेटिन सर्विस को सब्सक्राइब करें। सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करें।

वीडियो