300 महिलाओं के साहस की कहानी/ अजय देवगन की ‘भुज : द प्राइड ऑफ इंडिया’

14 अगस्त 2020 को अजय देवगन की ‘भुज : द प्राइड ऑफ इंडिया’ रिलीज़ होगी। फिल्म का मकसद युद्ध में महिलाओ के साहस को दर्शाना है। अभिषेक दुधइया निर्देशित यह फ़िल्म 1971 में हुए भारत पाकिस्तान युद्ध की पृष्ठभूमि पर बनी है।

अजय स्क्वॉड्रन लीडर विजय कार्णिक के किरदार में नज़र आएंगे, जो भुज एयरपोर्ट के इंचार्ज थे। और बमबारी में भुज एयरपोर्ट तबाह हो गया था ।

यह फिल्म गुजरात के माधापुर की उन 300 महिलाओं के साहस की कहानी है, जिन्होंने 1971 भारत-पाकिस्तान युद्ध में भारत की जीत में अहम भूमिका अदा की थी।

फिल्म उस कहानी को बताती है कि कैसे ये महिलाएं भुज के एक मात्र रनवे की मरम्मत के लिए साथ आई थी, जो कि युद्ध के दौरान तबाह हो गया था’।

फिल्म में संजय दत्त, सोनाक्षी सिन्हा, राणा दग्गुबाती, परिणीति चोपड़ा और एम्मी विर्क मुख्य भूमिका में हैं। फिल्म का निर्माण टी-सीरीज और सिलेक्ट मीडिया होल्डिंग एलएलपी ने किया है।

फिल्म में अजय युद्ध के एक नायक की भूमिका निभाते नजर आएंगे, वहीं संजय रणचोरदास सवाभाई रावाड़ी ‘पागी’ का किरदार निभाएंगे। पागी एक ऐसा व्यक्ति होता है, जो किसी के पैरों के निशान से उसकी राष्ट्रीयता, लिंग, ऊंचाई और वजन का पता लगा सकता है। अभिषेक दुधैया फिल्म का निर्देशन करेंगे।

अब किसी भी वाहन पर कोरोना वायरस आक्रमण नहीं कर पाएगा ।



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *