4 वर्षों में 1600 डॉक्टर किए गए भर्ती:- डाॅ. राजीव सैजल

HNN/ बिलासपुर

प्रदेश सरकार का 4 वर्ष का कार्यकाल ऐतिहासिक कार्यकल रहा है। प्रदेश सरकार द्वारा पिछले 4 वर्षों में 1600 डॉक्टर भर्ती किए गए हैं तथा स्टाफ नर्स व पैरा मेडिकल स्टाफ के पदों को भी भरा गया है। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग में स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं की अधिकांश लंबित भर्तियों को इसी वर्ष भरने के प्रयास किए जा रहे हैं। यह जानकारी स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण तथा आयुष मंत्री डॉ राजीव सैजल ने मारकंड मे नागरिक चिकित्सालय के लोकार्पण अवसर पर दी।

डॉक्टर सैजल ने कहा कि प्रदेश सरकार ने स्वास्थ्य के क्षेत्र को हमेशा प्राथमिकता दी है तथा स्वास्थ्य सेवाओं में आशाओं और अपेक्षाओं से अधिक सुधार किया गया है। आज दूरदराज के क्षेत्रों में भी हर जगह बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध करवाई जा रही है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन तथा जेपी नड्डा के आर्शीवाद से बिलासपुर के कोठीपुरा में एम्स हॉस्पिटल खोला गया है।

जिसका निर्माण कार्य पूरे जोरों से चल रहा है तथा इसी वर्ष जून तक निर्माण कार्य पूर्ण कर दिया जाएगा और यह जून तक एम्स विशेषज्ञता युक्त पूर्णरूपेण अपनी सेवाएं देना शुरू कर देगा। प्रदेश में सरकारी क्षेत्र में 6 तथा निजी क्षेत्र में एक मेडिकल कॉलेज काम कर रहे हैं जो की आबादी के हिसाब से देशभर में बहुत अच्छी स्थिति है। उन्होंने कहा कि पूरे देश में सभी लोगों को वैक्सीन लगाई जा रही है तथा प्रदेश भर में 15 से 18 वर्ष के बच्चों के लिए टीकाकरण कार्यक्रम आरंभ कर दिया गया है।

पहले ही दिन 90000 से अधिक बच्चों को कोरोना वैक्सीन लगा दी गई है तथा 15 से 18 वर्ष आयु के बीच के सभी बच्चों को 15 जनवरी तक टीकाकरण कर दिया जाएगा। डॉक्टर सैजल ने कहा कि मुख्यमंत्री के मार्गदर्शन से प्रदेश में लगातार स्वास्थ्य सुविधाओं में सुधार किया जा रहा है। प्रदेश के 4.25 लाख लोगों को आयुष्मान योजना के अंतर्गत लाकर उन्हें बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं प्रदान की जा रही है तथा 5.25 लाख लोगों का पंजीकरण हिम केयर योजना में किया गया है।

उन्होंने कहा कि क्षेत्रीय अस्पताल बिलासपुर में शीघ्र ही सीटी स्कैन की सुविधा उपलब्ध करवा दी जाएगी। उन्होंने नागरिक अस्पताल मारकंड में विशेषज्ञ चिकित्सकों सहित पर्याप्त स्टाफ उपलब्ध करवाने व नई एंबुलेंस उपलब्ध करवाने का आश्वासन दिया। कार्यक्रम में हिमाचल प्रदेश राज्य आपदा प्रबंधन बोर्ड के उपाध्यक्ष रणधीर शर्मा ने कहा कि नागरिक चिकित्सालय मारकंड के स्तर उन्नयन की अधिसूचना अगस्त 2019 में जारी कर दी गई थी लेकिन कोरोना के कारण इसका शुभारंभ नहीं हो सका था।

उन्होंने कहा कि 6 करोड़ 50 लाख रुपए राशि खर्च कर इस अस्पताल के भवन का निर्माण किया गया है। उन्होंने कोरोना के बेहतर प्रबंधन तथा कोरोना की पहली व दूसरी डोज में देशभर में प्रथम आने पर स्वास्थ्य मंत्री की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि नैना देवी में नए खोले जा रहे स्वास्थ्य खंण्ड का लोकार्पण भी शीघ्र ही कर दिया जाएगा।

लेटेस्ट न्यूज़ एवम अपडेट्स अपने व्हाटसऐप पर पाने के लिए हमारी व्हाटसऐप बुलेटिन सर्विस को सब्सक्राइब करें। सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करें।

वीडियो