65 पार कर चुके नाहन मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल को 6 महीने की एक्सटेंशन

वेटिंग में है अन्य तो महिंद्रू पर मेहरबानी क्यों…………

HNN/ नाहन

सेवानिवृत्त हो चुके नाहन मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल को 6 महीने की एक्सटेंशन दिए जाने के बाद एक बार फिर सरकार पर सवाल खड़े हो गए हैं। डॉक्टर एनके महेंद्रू को एक्सटेंशन दिए जाने के आदेश सचिव स्वास्थ्य विभाग द्वारा किए दर्शाए गए हैं। बता दें कि डॉक्टर महेंद्रू 30 अक्टूबर 2021 को सेवानिवृत्त हो चुके हैं। हैरानी की बात तो यह है कि डॉक्टर महेंद्रू 65 की उम्र पार कर चुके हैं बावजूद इसके उन्हें 6 महीने की एक्सटेंशन दी गई है।

जानकारी तो यह भी है कि यह आदेश स्वास्थ्य मंत्री के स्तर पर नहीं बल्कि किसी और लेवल पर हुए हैं। हैरान कर देने वाली बात तो यह सामने आई है कि जिन को एक्सटेंशन दी गई है वह 65 की उम्र पार कर चुके हैं। इस उम्र से ऊपर जाने वाले के लिए एक्सटेंशन दिए जाने का नियम ही नहीं बनता है और इससे भी बड़ी बात तो यह है कि जब 5 वर्ष से ज्यादा प्रोफेसर रहने का तजुर्बा रखने वाले अन्य व्यक्ति मौजूद है तो डॉक्टर महिंद्रू के ऊपर यह मेहरबानी क्यों?

उधर, इस बाबत स्वास्थ्य सचिव अमिताभ अवस्थी से भी कई बाबत संपर्क करने की कोशिश की गई मगर उन्होंने फोन नहीं उठाया। ऐसे में सवाल उठता है कि क्या अधिकारी अपने ही स्तर पर एक्सटेंशन देते हैं या फिर मुख्यमंत्री अधिकारी पर मेहरबान है। बताना जरूरी है कि नाहन का मेडिकल कॉलेज पहले से ही विवादों में चल रहा है।

मेडिकल कॉलेज के सिक्योरिटी सिस्टम से लेकर डॉक्टरों को दिए गए महंगे दामों के फ्लैट, सरकारी पानी मौजूद होने के बावजूद 100000 रूपए महीने का पानी और कई इक्विपमेंट्स खरीदने को लेकर मेडिकल कॉलेज पर सवालिया निशान लगाए जा रहे हैं। ऐसे में 65 साल के बाद एक प्रिंसिपल को सेवानिवृत्ति के बाद एक्सटेंशन दिए जाने को लेकर मेडिकल कॉलेज फिर विवादों में आ गया है। उधर, स्वास्थ्य मंत्री डॉ राजीव सेजल का कहना है कि वह इसके बारे में पता करके बताएंगे।

लेटेस्ट न्यूज़ एवम अपडेट्स अपने व्हाटसऐप पर पाने के लिए हमारी व्हाटसऐप बुलेटिन सर्विस को सब्सक्राइब करें। सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करें।

वीडियो