75 करोड़ से जुड़ेंगे सड़कों से वंचित सभी गाँव – सरवीन

HNN/ काँगड़ा

पहाड़ी क्षेत्रों में सड़कें आवागमन का एकमात्र साधन है। प्रदेश सरकार द्वारा सम्पर्क सड़कों के निर्माण पर इस वित्त वर्ष के दौरान मुख्यमंत्री ग्राम पथ  योजना के तहत 75 करोड़ की राशि व्यय की जा रही है ताकि कोई भी बस्ती सड़क सुविधा से वंचित न रहे। यह जानकारी सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री सरवीन चौधरी ने आज शाहपुर निर्वाचन क्षेत्र में 15 लाख से बनने वाली मझग्रां सम्पर्क सड़क का भूमिपूजन करने केे उपरांत उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए दी। इसके अतिरिक्त मंत्री द्वारा भनियार में 75 हजार की लागत से निर्मित सामुदायिक भवन का भी लोकापर्ण किया गया।

उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार राज्य में सड़क निर्माण, विशेष रूप से ग्रामीण क्षेत्रों में सड़कों के विस्तार को विशेष प्राथमिकता दे रही है। पर्वतीय राज्य में सड़कें ग्रामीण आर्थिकी व विकास की भाग्य रेखायें हैं और सरकार सड़कों की स्थिति के सुधार पर विशेष ध्यान दे रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में इस वर्ष सड़कों, पुलों के निर्माण तथा आवश्यक रख-रखाब पर 4,502 करोड़ रुपये का बजट में प्रावधान किया गया है। मंत्री ने कहा कि शाहपुर विधानसभा क्षेत्र को विकास का एक आदर्श मण्डल  बनाना उनकी सर्वोंच्च प्राथमिकता हैं। इस विधानसभा क्षेत्र में अनेकों विकास कार्य स्वीकृत करके उन्हें अमलीजामा पहनाया जा रहा है।

शाहपुर में चल रहे विकास कार्यों का उल्लेख करते हुए मंत्री ने बताया कि पेयजल योजना मझग्रां-द्रमण का निर्माण कार्य प्रगति पर है जिस पर करीब दो करोड़ की राशि व्यय की जा रही है। इसी प्रकार बहाव सिंचाई योजना सरान्कणी कूहल के निर्माण के लिए 9 करोड़ की राशि स्वीकृत की गई है, जिसका निर्माण कार्य शीघ्र आरंभ कर दिया जाएगा। इसके अतिरिक्त उठाऊ पेयजल योजना सिंहु भरमोनी के सुधार पर दो करोड़ तथा उठाऊ सिंचाई मझग्रां के सुधार पर 62 करोड़ की राशि व्यय की जा रही है। इसके अतिरिक्त भनियार में शमशान घाट पर शैड बनाने के लिए डेढ लाख और  लिंक रोड़ भरनोई और निघुई के लिए सात-सात लाख तथा लोअर भनियार में इंटरलॉक टाईले बिछाने के लिए 20 लाख की राशि स्वीकृत की गई है।

इसके अलावा उन्होंने बताया कि 12 लाख की लागत से राख व भरनोली 5 किलोमीटर एलटी लाइन बनाई गई है तथा 15 लाख की लागत से फरगेड में 25 केवीए का नया ट्रान्सफार्मर बनेगा। उन्होंने झिक्ला भनियार के पुराने सामुदायिक भवन की मरम्मत के लिए एक लाख रूपये देने की घोषणा की। सरवीन ने कहा कि मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर के कुशल नेतृत्व में सामाजिक सेवा क्षेत्र को सर्वोच्च प्राथमिकता प्रदान की गई है। उन्होंने कहा कि सरकार ने सभी क्षेत्रों का समग्र विकास व सभी वर्गो का उत्थान सुनिश्चित बनाने के लिए अनेक सर्वहितैषी योजनाएं प्रारम्भ की हैं। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार 70 वर्ष से अधिक आयु के पात्र वरिष्ठ नागरिकों को 1500 रुपये प्रतिमाह सामाजिक सुरक्षा पेंशन प्रदान कर रही है।

उन्होंने कहा कि वरिष्ठ महिलाओं के लिए सामाजिक सुरक्षा पेंशन का दायरा बढ़ाने के उद्देश्य से स्वर्ण जयंती नारी सम्बल योजना आरंभ की गई है, जिसमें 65 वर्ष से 69 वर्ष तक की आयु की सभी पात्र वरिष्ठ महिलाओं को बिना आय सीमा के 1000 रुपए की दर से सामाजिक सुरक्षा पेंशन प्रदान की जाएगी। इसमें लगभग 60 हजार महिलाएं लाभान्वित होंगी। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने गरीबी रेखा से नीचे जीवनयापन करने वाले परिवारों के दो बच्चों को दी जाने वाली जन्मोत्तर अनुदान राशि को 12,000 रुपये से बढ़ाकर 21,000 रुपये किया है। यह धनराशि जन्म के समय जन्मोत्तर अनुदान राशि और छात्रवृत्ति योजनाओं को युक्तिसंगत और एकीकृत कर सावधि जमा के रूप में प्रदान की जा रही है।

लेटेस्ट न्यूज़ एवम अपडेट्स अपने व्हाटसऐप पर पाने के लिए हमारी व्हाटसऐप बुलेटिन सर्विस को सब्सक्राइब करें। सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करें।

वीडियो