APS डगशाई के नाम रही चौथी आल इंडिया लेट मेजर उदय सिंह मेमोरियल इंटर स्कूल क्विज प्रतियोगिता

एपीएस अम्बाला दूसरे तो सेंट एडवर्ड शिमला रहे तीसरे स्थान पर

HNN News/ सोलन

आर्मी पब्लिक स्कूल डगशाई में शुक्रवार को चौथी ऑल इंडिया लेट मेजर उदय सिंह मेमोरियल इंटर स्कूल क्विज का आयोजन किया गया। इसमे एपीएस डगशाई ने पहला स्थान प्राप्त कर ट्रॉफी पर कब्जा किया। जबकि एपीएस अम्बाला दूसरे व सेंट एडवर्ड शिमला तीसरे स्थान पर रहा। प्रतियोगिता में शूलिनी विवि के वाईस चांसलर पीके खोसला ने बतौर मुख्यातिथि शिरकत की। जबकि शहीद मेजर उदय सिंह के पिता कर्नल केकेके सिंह पत्नी सुधा सिंह के साथ विशेष अतिथि के रूप में मौजूद रहे।

मुख्य अतिथि वीसी शूलिनी विवि पीके खोसला ने बच्चों को भारत की सभ्यता संस्कृति और साईंस अपनाने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने कहा के 12वीं शताब्दी में भारत में बड़े-बड़े विश्व विद्यालय स्थापित हो गए थे। जिसमें पढ़ने के लिए पुरी दूनिया से छात्र भारत आते थे। उस समय भारत का कल्चर बहुत रिच था। लेकिन मुगलों के वंशज खिलजी के आने के बाद भारत के विश्वविद्यालयों को तहस नहस कर हमारी बेशकिमती किताबों को जलाकर राख कर दिया गया।

उन्होंने बच्चों से जोर देकर कहा की हमें खोए इस ज्ञान को दोबारा हासिल करना होगा। उन्होंने बच्चों को सफलता का मंत्र देते हुए कहा की सफलता के लिए मेहनत, दूरदर्शिता और लगन का होना बेहद जरूरी है। इन तीन चीजों से आदमी किसी भी लक्ष्य को प्राप्त कर सकता है। अपना उदाहरण देते हुए उन्होंने कहा के वो स्कूल टाईम में कभी भी बड़े प्रतिभावान छात्र नहीं रहे बल्कि औसत दर्जे के विद्यार्थी थे। लेकिन मेहनत दूरदर्शिता और लगन से अपनी मजिलें तय की है।

प्रतियोगिता में 11 स्कूलों ने लिया भाग
क्विज में छात्रों ने बेबाकी से सवालों के उत्तर दिए। जिसमें शिमला, चंडीगढ़ और आसपास के 11 स्कूल आर्मी पब्लिक स्कूल अंबाला, आर्मी पब्लिक स्कूल चंडी मंदिर, सेंट एडवर्ड शिमला, डीएवी न्यू शिमला, डीएवी दाड़लाघाट, ऑकलैंड हॉउस बॉयज स्कूल शिमला, लर्निंग पाथ स्कूल मोहाली, सेंट मेरी कॉन्वेंट स्कूल कसौली, सेंट ल्यूक्स सोलन, लॉरेंस स्कूल सनावर व मेजबान आर्मी पब्लिक स्कूल डगशाई के स्टूडेंट्स ने हिस्सा लिया। प्रिंसिपल संजय कुमार मिश्रा ने मुख्यातिथि का आभार जताया और बच्चों को जीत पर बधाई दी। साथ ही प्रतियोगिता के आयोजन और सफल बनाने के लिए स्कूल टीचर रवि शर्मा की खूब सराहना की।

एपीएस के छात्र थे शहीद उदय सिंह
टीचर रवि शर्मा ने बताया की मेजर उदय सिंह एपीएस डगशाई के स्टूडेंट थे। वे 29 नवंबर 2003 को जम्मू कश्मीर में आतंकवादियों के साथ मुठभेड़ में शहीद हुए थे। वे शौर्य चक्र और सेना मेडल से सम्मानित थे।उनकी याद में प्रतियोगिता आयोजित की जाती है। इसका उद्देश्य बच्चों को किताबों के बाहर की दुनिया की जानकारी के बारे में अवगत करना है।

इस अवसर पर आनंद सेठी, दीपा सेठी, अध्यापक शम्मी अहलूवालिया मौजूद रहे।