MP,MLA, चेयरमैन और प्रदेश महामंत्री पच्छाद से फिर भी मंडल प्रधान नहीं बन पाया!

कहीं नवनिर्वाचित विधायिका को अंडर प्रेशर लाने के लिए तो नहीं खेला जा रहा है कोई खेल, 600 एक्टिव मेंबर नहीं बना पाए पच्छाद के दिग्गज भाजपाई

HNN Newsपच्छाद

जिला सिरमौर के 5 विधानसभा क्षेत्र हैं। तो वहीं केंद्र में भाजपा प्रदेश में भाजपा और पच्छाद में भी भाजपा की महिला विधायक फिर भी अभी तक इस विधानसभा क्षेत्र का भाजपा मंडल बगैर प्रधान के है।

हैरानी तो इस बात की है कि जिला सिरमौर के 4 विधानसभा क्षेत्रों में बिना किसी विरोध के मंडल प्रधान नियुक्त किए जा चुके हैं मगर पच्छाद विधानसभा क्षेत्र जिला प्रधान की नियुक्ति के हो जाने के बाद अभी तक बिना मंडल प्रधान के चल रहा है।

इससे भी बड़ी हैरानी तो इस बात की होगी कि पूरे जिला में कोई भी ऐसा विधानसभा क्षेत्र नहीं है जहां पर एक नहीं बल्कि चार चार भाजपा के दिग्गज नेता रहते हो। जिनमें सबसे पहले सांसद सुरेश कश्यप जो कि पूर्व में इस विधानसभा क्षेत्र के विधायक रहे हैं। विधायक बनी रीना कश्यप, विपणन बोर्ड के चेयरमैन बलदेव भंडारी, और उसके बाद सबसे वरिष्ठ नाम अगर कहा जाए तो वह प्रदेश महामंत्री चंद्रमोहन ठाकुर हैं।

बावजूद इसके अभी तक यह दिग्गज नेता 600 एक्टिव मेंबर नहीं बना पाए हैं। जाहिर है आने वाले समय में भाजपा का इस विधानसभा क्षेत्र में बैंड बजता नजर आ रहा है। सबसे बड़ी बात तो यह भी है कि संगठन में आपसी मतभेदों व उपचुनाव में टिकट आवंटन को लेकर पार्टी की गरिमा को ताक पर रखा गया था उसको लेकर नाराजगीयां धीरे-धीरे धरातल पर उतर रही है।

इस विधानसभा क्षेत्र में मंडल चुनाव के लिए सोलन के दिग्गज भाजपा नेता पवन गुप्ता को चुनाव प्रभारी बनाकर भेजा गया था। सूत्रों की माने तो उन्हें वस्तुस्थिति का का पूरा ज्ञान था। अंतर कलह जग जाहिर ना हो इसके लिए उन्होंने बड़ी सफलता के साथ अगली बैठक तक सभी मेंबर्स को पोर्टल पर चढ़ाने का दाव खेला था।

सवाल यह भी उठता है कि रीना कश्यप अभी नई-नई विधायक बनी है और संभवत यहां के दिग्गजों को उसका आगे बढ़कर कार्य करना नागवारा भी गुजरे। मगर सूत्रों की माने तो नई विधायक इस विषय को बड़ी गंभीरता से ले रही है संभवत एक या 2 दिन के अंदर कोर कमेटी की बैठक भी हो जाएगी।

क्या होना था

असल में यहां मंडल अध्यक्ष के चुनाव के लिए सोलन के पवन गुप्ता को चुनाव प्रभारी बनाकर भेजा गया था। जिस दिन मीटिंग रखी गई थी उस दिन उपाध्यक्ष सुरेश ठाकुर महामंत्री अनूप शर्मा मंडल अध्यक्ष प्रताप ठाकुर आदि मौजूद रहे। करीब 27 नाम मंडल अध्यक्ष के लिए आए। कोर कमेटी ने 9 नाम रखे थे। कोर कमेटी में शिव कुमार गुप्ता व रीना कश्यप भी शामिल थे। मगर इस बैठक में केवल 400 मेंबर ही बन पाए थे। जिसके चलते मंडल अध्यक्ष का चुनाव नहीं हो पाया।

इसके लिए करीब 600 एक्टिव मेंबर होने चाहिए थे। उधर चुनाव प्रभारी पवन गुप्ता का कहना है कि ऐसा कुछ नहीं है मेंबर्स के नाम पोर्टल पर चढ़ाने थे। जिसमें नेटवर्क आदि की वजह से देरी हो रही थी। मगर अब यह कार्य पूरा हो गया है एक-दो दिन में चुनाव संपन्न करा दिए जाएंगे।

उधर विधायक हिना कश्यप का कहना है पच्छाद मैं भाजपा तथा संगठन पूरी तरह से एकजुट है। चुनाव की वजह से देरी हुई है। मगर अब हमारे मेंबर पूरे हो गए हैं जल्द ही चुनाव संपन्न हो जाएंगे।